अपहरण के बाद नाबालिग से चार दोस्तों ने किया गैंगरेप फिर वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में किया वायरल

अपहरण के बाद नाबालिग से चार दोस्तों ने किया गैंगरेप फिर वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में किया वायरल
Spread the love


  • बिहार के सीतामढ़ी में हुई गैंगरेप की इस घटना के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ दर्ज किया केस

  • एसपी ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद उनके खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई होगी

सीतामढ़ी

बिहार के सीतामढ़ी से मानवता को शर्मसार कर देने वाली बेहद घिनौनी तस्वीर सामने आयी है।जिले के परिहार थाना क्षेत्र के एक गांव में नाबालिग का अपहरण करने के बाद गांव के ही मनचलों ने पहले तो उसका गैंगरेप (Gang Rape) किया। फिर इस घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर भी जारी कर दिया। घटना एक सप्ताह पहले की है।

इस मामले को लेकर गांव मे मनचलों के खिलाफ पंचायती भी बुलाई गई लेकिन दोषियों ने पंचायत के फैसले को नहीं माना। जिसके बाद पीड़ित परिवार वालों ने घटना को लेकर थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने इस मामले मे चार युवकों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी गयी है।

केस दर्ज करने के बाद पीड़िता को मेडिकल जांच के लिये सदर अस्पताल भेजा गया है। कोर्ट में भी पीड़िता ने अपने साथ हुई इस अमानवीय कृत्य का बयान दर्ज करा दिया है। सीतामढ़ी के एसपी अनिल कुमार ने कहा है कि पीड़िता को न्याय मिलेगा और पाक्सो एक्ट के तहत मामले की सुनावाई होगी। एसपी ने सोशल मीडिया पर जारी इस अमानवीय कृत्य का वीडियो को प्रसारित करने वालों के खिलाफ भी सख्ती से निपपटने की बात कही है।

गौरतलब है कि हाल के दिनों मे सीतामढ़ी जिले में लगातार अपराध का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। पीड़ित परिवार वालो ने बताया कि थाने में शिकायत दर्ज कराने के बाद उनको लगातार धमकी दी जा रही है और कहा जा रहा है कि अगर मुकदमा नहीं उठया तो जान से हाथ धो बैठोगे। दूसरी ओर महिला सामाजिक संगठनों से जुड़े लोगों ने इस घटना पर तीव्र आक्रोश व्यक्त किया है। सामाजिक कार्यकर्ता रंजीता कुमारी ने कहा है कि मामले में आरोपियो की जल्द गिरफ्तारी हो और महिलाओं के साथ जिस तरीके से घृणित कार्यो को अंजाम दिया जा रहा है उस पर पुलिस प्रशासन न सिर्फ रोक लगाने का काम करें, बल्कि आरोपियों को स्पीडी ट्रायल के माध्यम से जल्द से जल्द सजा सुनाई जाए।



Source link

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.