जालोर के इस सरकारी स्कूल में भेदभाव का आरोप, शिक्षा मंत्री के ट्विट के बाद जागा महकमा

Spread the love


  • – सरनाऊ पंचायत के केरवी राजकीय विद्यालय का मामला

जालोर. सरनाऊ पंचायत के केरवी राजकीय माध्यमिक विद्यालय में आयोजित वार्षिकोत्सव में समुदाय के बीच भेदभाव के आरोप लगे हैं। मामला सोशल मीडिया पर छाया हुआ है। 6 मार्च को आयोजित वार्षिकोत्सव को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चाएं हैं कि यहां आयोजित वार्षिकोत्सव में दो अलग अलग पांडाल बनाए गए।

जिसमें एक में विद्यार्थी व शिक्षक समेत अन्य वर्ग के लोग मौजूद थे। जबकि दूसरे में दलित वर्ग के लोग बैठे हुए थे। इस मामले में दिनभर सोशल मीडिया पर चर्चाएं चलती रही और शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा तक भी इस संबंध में शिकायत पहुंची तो उन्होंने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच के निर्देश के साथ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया। वहीं शिक्षा विभाग भी हरकत में आया। आनन फानन में एक टीम गठित की और उसने मामले के संबंध में मंगलवार को जांच करने के साथ ग्रामीणों के बयान भी लिए।

इस प्रकरण में ही यह तर्क भी चला कि जब सभी वर्ग के बच्चे एक ही टैंट के नीचे बैठे थे और शिक्षक समुदाय भी इसी टेंट में मौजूद था तो इस तरह के आरोप लगाना सही नहीं है। अलबत्ता मामला सोशल मीडिया पर छाने के साथ विभाग के लिए भी चर्चा का विषय बन चुका है। अलबत्ता विभागीय टीम ने प्रकरण की जांच कर ली है। जांच रिपोर्ट के आधार पर अग्रिम कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.