बरकत खां अपहरण मामले में 5 दिन बाद भी कोई सुराग नहीं, उग्र आंदोलन की चेतावनी

बरकत खां अपहरण मामले में 5 दिन बाद भी कोई सुराग नहीं, उग्र आंदोलन की चेतावनी
Spread the love


  • मोयला समाज ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

जालोर. भीनमाल में टैक्सी चालक बरकत खां के अपहरण के मामले को लेकर मोयला समाज की ओर से मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि बरकत खां 15 जुलाई से गुमशुदा है। इसको लेकर भीनमाल थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज करवाई है। लेकिन पुलिस ढुलमुल रवैये के कारण 5 दिन बाद भी कोई सुराग नहीं लग पाया है।

ज्ञापन में आरोप लगाया कि पुलिस अभी तक किसी भी ठोस नतीजे तक नहीं पहुंची और ना ही बरकत खां के परिजनों का सहयोग कर रही है। ऐसे में बरकत खां की जान को खतरा बना हुआ है। ज्ञापन में बताया कि बरकत खां को जल्द ही बरामद कर आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो मजबूर उग्र आंदोलन किया जाएगा।

यह है मामला

भीनमाल निवासी बरकत खां 15 जुलाई को घर से 10 बजे टैक्सी रिपेयर करवाने का कहकर निकला था, लेकिन 3 बजे तक नहीं लौटने पर परिजनों ने तलाश शुरू की। तलाश के दौरान परिजनों को नरता गांव रोड पर लावारिस हालत में बरकत खां की टैक्सी मिली। ऐसे में उनके मोबाइल पर भी कॉल किए गए, फोन पर घंटी जा रही थी लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ। परिजनों ने भीनमाल थाने में बरकत खां के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई। इधर, इस घटना को लेकर लोग धरने पर भी बैठे है, लेकिन 5 दिन गुजर जाने के बाद भी भीनमाल पुलिस के हाथ खाली है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.