भीनमाल: अधिकारियों की मेहरबानी के चलते शहर में चलती है अवैध शराब की दुकानें

भीनमाल: अधिकारियों की मेहरबानी के चलते शहर में चलती है अवैध शराब की दुकानें
Spread the love


REPORT BY VARUN SHARMA

– जगह जगह चल रही अवैध ब्रांच, उसके बाद भी विभागीय स्तर पर कार्रवाई नहीं, ऑन रिकॉर्ड ये दुकानें है ही नहीं

भीनमाल. भीनमाल शहर में लम्बे समय से अधिकारियों की मिलीभगत से अवैध शराब की दुकानों का कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है। शहर के आस पास ही ब्रांच के नाम पर इन अवैध दुकानों की भरमार है। जिन पर फिलहाल आबकारी, पुलिस व प्रशासन मेहरबान है और बार बार शिकायत के बाद भी अवैध शराब की दुकानों की जानकारी होने के बावजूद भी कार्रवाई नहीं हो रही।

सीधे तौर पर सांठ गांठ के आरोपों के बीच ये अवैध शराब की दुकानें धड़ल्ले से चल रही है। जबकि ये ब्रांचें शराब बेचने के लिए अधिकृत नहीं है। फिर भी अधिकारियों की मेहरबानी के चलते शराब की दुकानें दिन रात खुली रहती है।

अवैध शराब के ठेकेदारों पर अधिकारी मेहरबान

भीनमाल शहर में खजुरिये नाले के पास, गुणी नाडा सहित कई जगहों पर अवैध रूप से शराब बेची जा रही है, मगर कभी भी किसी अधिकारी की ओर से कार्रवाई नहीं करना बड़ा सवाल है। वैसे अधिकारियों को सवाल करने पर रटा रटाया जवाब ही मिलता है, जांच करवाते है. वैसे उपखण्ड पर इस तरह अधिकारियों की कार्यप्रणाली कई सवाल खड़े कर रही है।

नियमों की उड़ रही है धज्जियां

शराब बिकवाली के लिए निर्धारित गाइड लाइन है, लेकिन भीनमाल में ये गाइड लाइन ताक पर है। शराब दुकान बंद होने का समय हो या ठेके के आस पास बनाया गया बार हो, फिर भी भीनमाल आबकारी विभाग लम्बे समय से मेहरबान है। आबकारी की ओर से शहर में शराब के ठेकेदारों पर मेहरबानी मिलीभगत के संकेत दे रहे है. मगर बड़ी बात यह है कि जिले के आला अधिकारी भी इसको लेकर कोई कड़े कदम नहीं उठा रहे है।

इसलिए खतरनाक है अवैधीये

सूत्रों की मानें तो शहर के आस पास संचालित अवैध शराब की दुकानें शहर में संचालित दुकानों से ही जुड़ी है, जिन्हें ब्रांच का तमगा देकर मनमर्जी से चलाया जा रहा है। जो सीधे तौर पर अवैध है और ऑन रिकॉर्ड नहीं होने से अनहोनी की आशंका भी बनी रहती है, जैसा कि करीब एक माह पूर्व ही फागोतरा में अवैध शराब की दुकान पर हत्या के प्रकरण के रूप में नजर आया था। इन दुकानों का संचालन ही अवैध होता है, इसलिए यहां रेट मनमर्जी की होती है और आपराधिक तत्वों का जमावड़ा भी रहता है।

इधर, रात शटर के नीचे और खिड़की से बिकवाली

अवैध कारोबार के अलावा भीनमाल के जसवंतपुरा तिराहे रेलवे क्रॉसिंग के नजदीक संचालित वैध दुकानें भी अवैध तरीके से चल रही है। यहां अभी भी देर रात तक न केवल शराब की बिकवाली हो रही है, बल्कि यहां पर देर रात तक शराब परोसी भी जा रही है। जबकि यहां कुछ समय पूर्व एसडीएम ने कार्रवाई की थी।

अन्य शराब की दुकानों की बात करें तो यहां कई दुकानों में शटर के नीचे से तो कुछ में खिड़की को इस कारोबार का जरिया बनाया गया है। अब विभाग मामले में अपना मौन कब खोलता है और कार्रवाई करता है, यह बात अहम होगी। अलबत्ता फिलहाल यह कारोबार अधिकारियों की शह के साथ मनमर्जी से जरुर चल रहा है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.