बर्ड फ्लू : जालोर में ​वन विभाग व पशुपालन विभाग ने जारी किया अलर्ट

बर्ड फ्लू : जालोर में ​वन विभाग व पशुपालन विभाग ने जारी किया अलर्ट
Spread the love


जालोर

हाल ही के दिनों में राजस्थान के झालावाड़, कोटा, बारां में मृत पक्षी मिले, जिनमें एच—5 एवियन एन्फ्लुंजा वायरस पाया गया। साथ ही पाली, जोधपुर, जयपुर, हनुमानगढ़ व बीकानेर में भी मिले मृत पक्षियों को जांच के लिए पशु रोग संस्थान भोपाल भेजा गया है। इसको देखते हुए जालोर के वन एवं पशुपालन विभाग की ओर से बर्ड फ्लू का अलर्ट जारी किया गया है।

वन विभाग ने बर्ड फ्लू के संक्रमण को देखते हुए क्षेत्रीय वन अधिकारियों व फील्ड कार्मिकों को सतर्क रहते हुए वन क्षेत्र, वेट लैंड, वॉटर बॉडीज जहां माइ्ग्रेटरी बर्ड्स अन्य देशों या आ रहे है या फिर जहां आने की सम्भावना है उन क्षेत्रों में नियमित निगरानी के निर्देश दिए है। साथ ही बीमार या मृत पक्षियों के पाए जाने की स्थिति में तत्काल रूप से जिला कार्यालय को जानकारी देने निर्देश जारी किए है।

बर्ड फ्लू की संभावना को देखते हुए पशु पालन के संयुक्त निदेशक डॉ. ओंकार पाटीदार ने जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष स्थापित कर हैल्पलाइन नम्बर 02973—222465 जारी किए है। इस नियंत्रण कक्ष 24 घंटे सेवा जारी रहेगी, जिसका निर्देश डॉ. मोहम्मद नूर करेंगे। इसके अलावा पशुपालन विभाग की ओर से नोडल स्तरीय त्वरित कार्यवाही दल का गठन भी किया गया है।

ये दिए निर्देश

उपवन संरक्षक जालोर डॉ. अमित चौहान ने बताया कि एवियन एन्फ्लुंजा एक गम्भीर और संक्रामक रोग है, इसे फैलने से रोकना ही सबसे बड़ा निदान है। जिले में पर्यावरण एवं पक्षियों के संरक्षण से जुड़े संगठन सहित पॉलट्री फॉर्म संचालक एवं जिलेवासियों को इससे सचेत रहने की जरुरत है। उन्होंने बताया कि कहीं भी इस तरह से बीमार एवं मृत पक्षी पाए जाएं तो तत्काल नजदीकी वन विभाग या पशु चिकित्सा विभाग में सूचना दें। साथ ही हाथ के दस्ताने, मास्क, डिसइन्फेक्टेड केमिकल्स या सेनेट्राइजर आदि का उपयोग करें।

इन क्षेत्रों में आते है प्रवासी पक्षी

जिले में कई क्षेत्र ऐसे है जहां प्रवासी पक्षी आते रहते है। जिसमें जालोर शहर का सुन्देलाव तालाब, सांचौर क्षेत्र का रणखार, भंवरानी व रायथल का तालाब मुख्य है। इन क्षेत्रों में माइग्रेटर पक्षी आते है। ऐसे में इन क्षेत्रों में निगरानी रखने की खास जरुरत है।

7 जिलों में 24 घंटे में 135 कौओं की मौत

पिछले 24 घंटे के अंदर हनुमानगढ़ में 88, झालावाड़ में 13, बारां में 12, जयपुर और जाेधपुर में 7-7 व पाली और बीकानेर में 4-4 कौओं की मौत हुई है। अब तक करीब 250 से ज्यादा कौओं की मौत हो चुकी है। आशंका जताई जा रही है कि बर्ड फ्लू के कारण ये मौतें हो रही हैं। हालांकि जालोर जिले से अभी तक ऐसी कोई खबर सामने नहीं आई है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.