बीजेपी ने गुपकार समूह को बताया मोहरा, कश्मीर का विशेष दर्जा नहीं होगा वापस

बीजेपी ने गुपकार समूह को बताया मोहरा, कश्मीर का विशेष दर्जा नहीं होगा वापस
Spread the love


 

बीजेपी ने गुपकार समूह को बताया मोहरा, कश्मीर का विशेष दर्जा नहीं होगा वापस

जम्मू कश्मीर. बीजेपी नेता राम माधव (BJP Ram Madhav) ने नवगठित गुपकार गठबंधन (Gupkar Alliance) के नेताओं की आलोचना करते हुए इसे ‘मोहरा’ करार दिया है। राम माधव ने शनिवार को एक ट्वीट करते हुए कहा कि,”गुपकार 2 सिर्फ एक मुखवटा है। हर कश्मीरी (Kashmiri) इस तथ्य से अच्छी तरह से वाक़िफ़ है कि, कश्मीर के विशेष दर्जे की वापसी नहीं होने वाली है। लेकिन मोदी सरकार (PM Modi Government) के लिए अच्छा यह रहा कि 2019 ने 1953 को बदल दिया है। वेलकम टू रियलपोलिटिक।”

अनुच्छेद 370 को हटाने के खिलाफ राजनीति

गौरतलब है की, भारत सरकार ने 5 अगस्त 2019 को जम्मू और कश्मीर के तत्कालीन राज्य को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को निरस्त कर दिया था।अब एक साल बाद जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को हटाने के खिलाफ राजनीतिक दल एकजुट हुए हैं। श्रीनगर में पीडीपी और नेशनल कॉन्फ़्रेंस समेत 6 दलों की हुई बैठक में पीपपुल्स अलायंस बनाने का ऐलान किया गया था। फारूक अब्दुल्ला के गुपकार रोड स्थित आवास पर हुई बैठक में महबूबा मुफ्ती ने भी हिस्सा लिया था। इस बैठक में जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 की बहाली की मांग की गई।

 

गुपकार समूह

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ़्ती की रिहाई के बाद गुपकार समूह में पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती और सज्जाद लोन के साथ ही जम्मू कश्मीर के उन सभी राजनीतिक दलों के नेता शामिल हैं जिन्होंने 4 अगस्त को साझा बयान जारी किया था। गुपकार समूह छह राजनीतिक दलों का है और वह जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 की बहाली के लिए संघर्ष कर रहा है। गुपकार समूह का गठन 22 अगस्त 2019 को फारूक अब्दुल्ला के गुपकार रोड स्थित आवास पर हुई बैठक में किया गया था। गुपकार समूह ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को निरस्त किए जाने को असंवैधानिक करार देते हुए इसकी बहाली के लिए संघर्ष करने का ऐलान किया था।

Source link

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.