जालोर : शौर्य स्मारक निर्माण के भामाशाह परिवार का जालोर पहुंचने पर बहुमान

जालोर : शौर्य स्मारक निर्माण के भामाशाह परिवार का जालोर पहुंचने पर बहुमान
Spread the love


  • शौर्य स्मारक पर प्रशासन व जालोर विकास समिति की ओर से किया गया सम्मान

  • 15 फरवरी 2021 को शौर्य स्मारक का लोकार्पण किया गया था

जालोर

तीखी निवासी भामाशाह रमेश कुमार खूबचंद जैन की ओर से निर्मित शोर्य स्मारक का लोकपर्ण जालोर महोत्सव ’15 फरवरी 2021′ पर जिला प्रशासन की ओर से किया गया था। शौर्य स्मारक के निर्माण के भामाशाह परिवार से विमल कुमार जैन व अन्य संघ के साथ जालोर पहुंचे, जिनका शनिवार शाम शौर्य स्मारक पर जिला प्रशासन व जालोर विकास समिति की ओर से बहुमान किया गया।

गौरतलब है कि यह संघ चैन्नई से रवाना होकर पालीताना, नाकोड़ा से होता हुआ जालोर पहुंचा था। सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में उपखण्ड अधिकारी चम्पालाल जीनगर, सर्किल इंस्पेक्टर लक्ष्मणसिंह ने विमल जैन व उनकी धर्म पत्नी एवं उनके साथी भरत भाई, सुरेश जैन का साफा, शॉल व माल्यार्पण कर स्वागत किया। संघ के विमल जैन की ओर से उपखण्ड अधिकारी, सर्किल इंस्पेक्टर, कानाराम परमार, परमानंद भट्ट, नूर मोहम्मद, डूंगरसिंह व तरुण सिद्धावत का माला व शॉल ओढ़ाकर बहुमान किया गया।

इस दौरान उपखंड अधिकारी चम्पालाल जीनगर ने 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के कमांडर नियाजी द्वारा 93 हजार सैनिकों के भारत के समक्ष समर्पण के बारे में जानकारी दी। वहीं परमानंद भट्ट ने शोर्य कविता का वाचन किया, सीआई लक्ष्मणसिंह ने सभी मेहमानों का अभिनंदन किया। मंच का संचालन नूर मोहम्मद ने किया।

इस मौके पर कानाराम परमार, परमानंद भट्ट, नूर मोहम्मद, समन्वयक तरुण सिद्धावत, रोटरी क्लब के अध्यक्ष डूंगरसिंह मण्डलावत, पवन ओझा, संजय सुंदेशा, जैन बोर्डिंग प्रभारी सुरेश भाई जैन, भरत भाई व जालोर विकास समिति के सदस्य उपस्थित थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.