जालोर : तेज रफ्तार ने छीनी एक और जिंदगी, आरोप—एएसआई शशिकला की ढिलाई से आरोपी को फरार होने में मिली मदद

जालोर : तेज रफ्तार ने छीनी एक और जिंदगी, आरोप—एएसआई शशिकला की ढिलाई से आरोपी को फरार होने में मिली मदद
Spread the love


जालोर

जिले में कुछ दिन पहले दांतवाड़ा में ड्रिंक एंड ड्राइव के मामले में पांच बच्चों की मौत हो गई थी। उसके बाद पुलिस अधीक्षक ने जिले के सभी थानों में 5 बजे से 8 बजे शराब पीकर वाहन चलाने के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए थे।

फिर भी धुलंडी के दिन जालोर शहर में एक और घटना घटित हुई, जिसमें एक बाइक सवार की मौत हो गई। घटना के बाद से आरोपी फरार है। इस मामले में एएसआई को निलंबित करने की भी मांग उठी है।

यह था मामला

मामला सोमवार यानि धुलंडी के दिन का है। मृतक दिनेश प्रजापत ¼45) पुत्र थानाराम प्रजापत के भाई जगदीश आर्य ने बताया कि शहर के तिलकद्वार से बड़ी पोल गौरव पथ पर आरोपी रवि पालीवाल ने तेज गति जीप चलाकर उसके भाई दिनेश को टक्कर मारी। जिससे उसका भाई पास के नाले में गिर गया और गम्भीर चोटें आई। जालोर चिकित्सालय में प्राथमिक उपचार के बाद रैफर किया गया। इस दरम्यान गुजरात ले जाते समय वराड़ा—सिरोही के बीच ही उसके भाई ने दम तोड़ दिया। मृतक के भाई ने आरोपी के खिलाफ नामजद रिपोर्ट पेश की है।

Jalore News
फोटो — टक्कर मारने का आरोपी रवि पालीवाल।

घटना को लेकर एएसआई शशिकला का विरोध

शव को जालोर के राजकीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया था। हादसे के बाद परिजन और समाजबंधुओं ने आक्रोश जताया और आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग कर उचित कार्रवाई की मांग की गई। परिजनों और समाजबंधुओं ने मामले में एएसआई शशिकला की कार्यप्रणाली पर भी सवालिया निशान लगाए। साथ ही एएसआई के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। जिला अस्पताल में खासी भीड़ भी एकत्र हो गई। सूचना पर पुलिस जाब्ता भी मौके पर पहुंचा और समझाइश का प्रयास किया। दोपहर में एएसपी अनुकृति उज्जैनिया की समझाइश और जांच के साथ उचित कार्रवाई के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ और पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सुपुर्द किया गया।

एएसआई शशिकला पर लगे गम्भीर आरोप

परिजनों व समाजबंधुओं ने एएसआई पर इस मामले को लेकर गम्भीर आरोप लगाए है। उन्होंने बताया कि टक्कर मारने की घटना के बाद आरोपी करीब 3—4 घंटे तक शहर में शराब पीकर गाड़ी दौड़ाता रहा, लेकिन एएसआई शशिकला को सूचना के बाद भी उसे गिरफ्तार नहीं किया गया। ऐसे में आरोपी आसानी से फरार हो गया।

Jalore News
फोटो — मृतक के भाई ने एएसआई के विरुद्ध एसपी को दी लिखित शिकायत।

एएसआई के निलम्बन की मांग

मृतक के भाई ने पुलिस अधीक्षक को लिखित में शिकायत देकर एएसआई शशिकला के विरुद्ध कार्रवाई कर निलम्बन की मांग की है। जिसमें कार्रवाई में ढिलाई का आरोप है। उन्होंने बताया कि सुबह एएसआई शशिकला मौके पर पहुंची तो लोगों ने नारेबाजी की। लोगों के आक्रोश के बीच उन्हें लौटना पड़ा। इधर, मामला बिगड़ता देख एएसपी मौके पर पहुंची।

मौके पर मौजूद लोगों का आरोप है कि आरोपी रवि अपनी गाड़ी में शराब पी रहा था और उसके बाद दिन में तेज स्पीड में गाड़ी चला रहा था, लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। आरोप है कि घटनाक्रम के बाद भी लगभग पांच घंटे तक आरोपी शहर में ही गाड़ी दौड़ाता रहा, लेकिन उसे नहीं पकड़ा गया। जिसके कारण आरोपी मौके से फरार हो गया। समाजबंधुओं ने मामले में एएसआई की भूमिका पर सवालिया निशान लगाते हुए उसे हटाने की मांग की। इधर, एएसपी ने मामले में जांच के साथ उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.