#JusticeForAyesha : आरिफ को आयशा के सुसाइड का अफसोस नहीं, अब कोर्ट ने 3 दिन के रिमांड पर भेजा

#JusticeForAyesha : आरिफ को आयशा के सुसाइड का अफसोस नहीं, अब कोर्ट ने 3 दिन के रिमांड पर भेजा
Spread the love


जालोर/अहमदाबाद

अहमदाबाद के आयशा सुसाइड केस में गुजरात पुलिस ने उसके पति आरिफ को राजस्थान के पाली से सोमवार रात अरेस्ट किया था। पुलिस मंगलवार शाम उसे लेकर अहमदाबाद पहुंची, जहां लॉकअप में उससे पूछताछ की गई। गिरफ्तारी से लेकर लॉकअप में पूछताछ तक यह नजर आया कि आरिफ को आयशा के सुसाइड का कोई गम नहीं है।

अहमदाबाद पुलिस के डीसीपी रवींद्र पटेल ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरिफ का बर्ताव चौंकाने वाला था क्योंकि उसके चेहरे पर आयशा की मौत को लेकर रत्तीभर भी अफसोस नजर नहीं आया। मैंने उससे आयशा के गर्भपात के बारे में भी सवाल किए, जिस पर उसने हामी भरी। यानी आयशा के परिवार का यह आरोप सही पाया गया है कि गर्भपात के बाद आयशा की हालत गंभीर होने के बावजूद आरिफ उसे देखने तक नहीं आया था।

आरिफ 6 मार्च तक पुलिस रिमांड पर

पुलिस ने आरिफ को मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश किया। पुलिस ने 5 दिन की रिमांड मांगी थी, लेकिन अदालत ने 3 दिन की रिमांड मंजूर की। उसे 6 मार्च को दोपहर 3 बजे तक पुलिस हिरासत में भेजा गया है।

गिरफ्तारी के वक्त पर आरिफ के चेहरे पर शिकन नहीं थी

आयशा ने बीते शनिवार को साबरमती नदी में कूदकर सुसाइड कर लिया था। सुसाइड से पहले उसने एक वीडियो बनाकर आरिफ को भेजा था। आयशा के सुसाइड के बाद जब वीडियो वायरल हुआ तो राजस्थान के जालौर में रहने वाला पति आरिफ घर से फरार हो गया। गुजरात पुलिस जालौर में उसके घर पहुंची तो परिवार वालों ने बताया था कि वह एक शादी में गया था और वहीं से कहीं चला गया है। इसके बाद मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरिफ को सोमवार रात पाली से अरेस्ट किया गया था। जब पुलिस ने आरिफ को पकड़ा, तो उसने पुलिस के साथ चलना शुरू कर दिया जैसे कि कुछ हुआ ही न हो। उसके चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी।

वकील ने चौंकाने वाले खुलासे किए थे

आयशा के वकील जफर पठान ने भास्कर से बातचीत में चौंकाने वाले खुलासे किए थे। उन्होंने बताया था कि 23 साल की आयशा की शादी राजस्थान के जालौर के रहने वाले आरिफ से 2018 में हुई थी। आरिफ का राजस्थान की ही एक लड़की से अफेयर था। आयशा के सामने ही आरिफ गर्लफ्रेंड से वीडियो कॉल पर बात करता था। वह अपनी प्रेमिका पर ही पैसे लुटाता था और इसी वजह से वह आयशा के पिता से रुपयों की मांग करता था। प्रेग्नेंसी के दौरान आरिफ के बर्ताव से आयशा टूट गई थी। वह डिप्रेशन में आ गई थी। गर्भ में ही उसके बच्चे की मौत हो गई थी।

आरिफ को सजा मिलनी चाहिए: पिता

आयशा के पिता लियाकत अली ने मंगलवार को कहा था कि उन्होंने आरिफ के पिता को फोन करके पूरे मामले की जानकारी देना चाही, लेकिन उन्होंने कभी मेरा फोन नहीं उठाया। मेरी आयशा वापस नहीं आएगी, लेकिन उसके गुनहगार को सजा मिलनी चाहिए, ताकि किसी और की बेटी के साथ ऐसा न हो। मेरी बेटी आयशा हंसमुख थी, लेकिन निकाह के बाद से ही दहेज को लेकर उसकी जिंदगी नर्क बना दी गई थी। एक बार तो ससुराल वालों ने उसे तीन दिन तक खाना तक नहीं दिया था।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.