पंचायत समिति चुनाव 2020 : साख का सवाल बनी सरनाउ पंचायत समिति की ये सीट

पंचायत समिति चुनाव 2020 : साख का सवाल बनी सरनाउ पंचायत समिति की ये सीट
Spread the love


जालोर

फिलहाल जालोर में जिला परिषद व पंचायत समिति चुनाव को लेकर भाजपा और कांग्रेस दोनों ही अपने अपने प्रत्याशियों को जीताने में लगी है। इस बीच सरनाउ पंचायत समिति की वार्ड संख्या 15 की सीट काफी चर्चा में है। ऐसा नहीं है कि यह सीट भाजपा और कांग्रेस के प्रत्याशियों को लेकर चर्चा में बल्कि यह सीट कांग्रेस और निर्दलीय प्रत्याशी को लेकर चर्चा में है।

सरनाउ पंचायत समिति की वार्ड संख्या 15 से कांग्रेस की ओर से दो उम्मीदवारों ने दावेदारी की थी। सूत्रों के मुताबिक इसमें से एक प्रत्याशी की सिफारिश पूर्व मुख्य उपसचेतक रतनदेवासी ने की थी, लेकिन कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंदसिंह डोटासरा ने इस सीट पर मोहनलाल विश्नोई की माता सगुणी देवी को मौका दिया और रतनदेवासी के प्रत्याशी का नाम खारिज कर दिया।

Jalore News
फाइल फोटो : सरनाउ पंचायत समिति के वार्ड 15 से नामांकन दाखिल करने पहुंची कांग्रेस प्रत्याशी सगुणी देवी।

रोचक बात ये है कि रतनदेवासी के प्रत्याशी का कांग्रेस से टिकट कट जाने पर उसने अपनी माता झमकूदेवी को निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में खड़ा किया है। इधर, झमकूदेवी के पति सेड़िया ग्राम पंचायत के सरपंच भी है। अब कांग्रेस प्रत्याशी सगुणीदेवी और निर्दलीय प्रत्याशी दोनों ही आमने सामने है। ऐसी स्थिति में कांग्रेस को वोट बिखराब का डर भी है।

इन परिस्थितियों के कारण सरनाउ पंचायत समिति के वार्ड संख्या 15 की सीट सबसे हॉट बनी हुई है। यहां कांग्रेस के दो बड़े नेताओं के दांव लगे है, अब यह परिणाम के बाद ही साफ हो पाएगा की किस नेता की साख बच पाएगी। एक तरफ रतनदेवासी का प्रत्याशी है जो निर्दलीय है वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के कद्दावर नेता मोहनलाल विश्नोई की माता प्रत्याशी के रूप में मैदान है, जो कांग्रेस की ओर से चुनाव लड़ रही है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.