पुलिस ने बरती ढिलाई, विवादों के बीच अंतिम संस्कार

Spread the love


  • भोमिया राजपूत युवा महासभा के जिलाध्यक्ष के खिलाफ मामला दर्ज

भीनमाल. विवादों में घिरे थूर गांव प्रकरण गुरुवार को भी विवादों के बीच ही सुलझा। प्रकरण में पुलिस की ने नाबालिग के अपहरण के मामले में दो आरोपियों को हिरासत में लिया, जिसके बाद धरना समाप्त हो गया। पुलिस ने मृतका के पुत्र की रिपोर्ट पर मेडिकल बोर्ड से मृतका को पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द किया। पुलिस की मौजूदगी में थूर गांव में विधवा का अंतिम संस्कार हुआ।

इस प्रकरण में परिजनों व ग्रामीणों की ओर से नाबालिग को बरामद करने, शेष आरोपियों को गिरफ्तार करने व रामसीन थानाधिकारी को निलम्बित करने की मांग को लेकर धरना दिया जा रहा है। गुरूवार को धरनार्थी पोस्टमार्टम व शव उठाने के लिए तैयार हुए, उसके बाद धरना समाप्त हुआ। परिजनों व ग्रामीणों की मांगों पर कार्यवाही जा रही है।

रामसीन थानाधिकारी पर जो आरोप लगाए है, उसको लेकर भी एएसपी की ओर से जांच की जा रही है। गौरतलब है कि थूर गांव में मंगलवार को नाबालिग के अपहरण से आहत थूर निवासी हविया कंवर (58) ने केरोसीन उड़ेलकर आत्महत्या कर दी। मृतका की नाबालिग पुत्री का 23 फरवरी को दो जनों ने अपहरण कर लिया था।

भीनमाल में बदसलूकी का आरोप

शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद वाहन में थूर ले जाने के दौरान 72 जिनालय के पास एक व्यक्ति के साथ मारपीट करने व शव के साथ बदसलूकी करने का मामला पुलिस थाने में दर्ज हुआ। थूर निवासी भंवरसिंह ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि वह मृतका के परिजनों के साथ शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों के साथ शव को थूर ले जा रहा था। उस दौरान 72 जिनालय के पास भोमिया राजपूत युवा महा परिषद के जिलाध्यक्ष सर्जनसिंह गुंदाऊ व निम्बावास निवासी टीकमसिंह ने वाहन आगे रोककर उसके साथ मारपीट की।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.