हरजी गांव के सरकारी स्कूल का प्रधानाचार्य रिश्वत लेते गिरफ्तार

हरजी गांव के सरकारी स्कूल का प्रधानाचार्य रिश्वत लेते गिरफ्तार
Spread the love


  • अपने ही स्टाफ से मांगी थी 30 हजार रुपए की रिश्वत
  • कार की दराज से रिश्वत राशि जब्त

जालोर

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो सिरोही ने एरियर के भुगतान के बदले दस हजार रुपए रिश्वत लेते हरजी गांव की सरकारी स्कूल के प्रधानाचार्य को शुक्रवार को गिरफ्तार किया है।

भ्रष्टाचार निरोध ब्यूरो सिरोही के उप महानिरीक्षक डॉ. विष्णुकांत ने जानकारी देते हुए बताया कि शांतिनगर, जालोर निवासी दिनेशचंद्र (उम्र : 59 वर्ष) पुत्र मोडाराम ने एसीबी में शिकायत दी कि वह हरजी के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में सहायक प्रशासनिक अधिकारी है।

यह भी पढ़ें : अब सांचौर में होंगे नगरपालिका के चुनाव

छठें वेतनमान के स्थिरीकरण के 90 माह का 4.11 लाख रुपए एरियर बकाया है। इसमें से तीन लाख रुपए का भुगतान कर बैंक खाते में जमा कराने की एवज में प्रधानाचार्य सुरेश कुमार कुटल (उम्र 47 वर्ष) ने दस प्रतिशत के हिसाब से 30 हजार रुपए मांगी थी।

परिवादी ने विद्यालय परिसर में खड़ी प्रधानाचार्य सुरेश कुमार कुटल की निजी कार में यह रिश्वत लेकर गियर बॉक्स के आगे एक दराज में रख दी थी। जहां से एसीबी ने राशि बरामद की। साथ ही एरियर भुगतान संबंधी कुछ बिल भी बरामद किए गए हैं।

ऐसे किया गिरफ्तार

सिरोहीे एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नारायणसिंह ने बताया कि परिवादी दिनेशचन्द्र हरजी गांव की राउमावि में ही सहायक प्रशासनिक अधिकारी है। प्रधानाचार्य सुरेश कुमार ने दस प्रतिशत के हिसाब से 30 हजार रुपए मांगी थी। इनमें से दस हजार रुपए लेते प्रधानाचार्य सुरेश को रंगे हाथों पकड़ा गया। उन्होंने स्कूल की छुट्टी होने पर घर जाने से कुछ देर पहले कार में यह राशि ली और गियर के पास दराज में रखी। वह रिश्वत लेकर सीधे घर जाने की फिराक में था, लेकिन उससे पहले एएसपी नारायणसिंह व टीम ने उसे पकड़ लिया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.