बड़े भाई की शादी से लौट रहा था युवक, तेज रफ्तार बाइक ट्रेफिक बेरिकेड से टकराई; उछलकर गिरने से मौत

बड़े भाई की शादी से लौट रहा था युवक, तेज रफ्तार बाइक ट्रेफिक बेरिकेड से टकराई; उछलकर गिरने से मौत
Spread the love


  • सीकर रोड पर ढेहर का बालाजी के पास हादसा, बाइक सवार दूसरा युवक गंभीर घायल

  • रात करीब 10 बजे हुआ हादसा, देर रात डेढ़ बजे दम तोड़ा, दुल्हे के परिवार में कोहराम

जयपुर

शहर में देवउठनी एकादशी पर विवाह समारोह की धूम रही। इसी बीच बुधवार रात को अपने सगे भाई की शादी में शामिल होकर भाभी के स्वागत की तैयारियों के लिए घर लौट रहे एक युवक की बाइक सड़क पर लगे ट्रेफिक बेरिकेड्स से टकरा गई। टक्कर इतनी जबर्दस्त थी कि बाइक चला रहा युवक उछलकर कई फीट दूर जा गिरा। बाइक और लोहे का बेरिकेड भी दूर तक घिसटते चले गए।

हादसे के बाद राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद गंभीर रुप से घायल हुए बाइक सवार दोनों युवकों को अस्पताल पहुंचाया। जहां देर रात दूल्हे के भाई की मौत हो गई। वहीं, बाइक सवार दूसरा युवक गंभीर घायल हो गया। वह आईसीयू में उपचाराधीन है। हादसे का पता चलने पर दूल्हे के परिवार में मातम छा गया। उसके पिता और अन्य परिजन मौके पर पहुंचे। आज शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

घटनास्थल पर खड़ी बाइक और बेरिकेड

घटनास्थल पर खड़ी बाइक और बेरिकेड

तीन भाईयों में सबसे छोटा था 20 साल का विकास, पिता है आरएसी में हेडकांस्टेबल

घटनास्थल पर पहुंचे हेडकांस्टेबल रविंद्र कुमार ने बताया कि मृतक विकास रैगर (20) मुरलीपुरा में शेखावाटी नगर का रहने वाला था। उसके पिता प्रेमचंद आरएसी की 5 वीं बटालियन, जयपुर में हेडकांस्टेबल है। विकास तीन भाईयों में सबसे छोटा था। 25 नवंबर को उसके सबसे बड़े भाई की शादी थी। रात करीब 10 बजे विकास खाना खाकर अपने अपने भाई और भाभी के स्वागत की तैयारियों के लिए बाइक लेकर घर लौट रहा था।

हादसे में घायल बाइक सवार किराएदार की हालत गंभीर

विकास के साथ उनका किराएदार भरत कुमार सैनी भी था। वे सीकर रोड से गुजरे। तभी ढेहर का बालाजी के पास लगे लोहे के बेरिकेट्स से तेज रफ्तार बाइक टकरा गई। इससे विकास और भरत उछलकर काफी दूर सड़क पर गिरे। उनके गंभीर चोटें आई। तब राहगीरों की सूचना पर मुरलीपुरा थाना और दुर्घटना थाना पश्चिम पुलिस मौके पर पहुंची। जानकारी के अनुसार ट्रेफिक बेरिकेड्स पर रिफलेक्टर स्टीकर भी चिपका रखे थे। यह नाकाबंदी और वाहनों की रफ्तार पर कंट्रोल के लिए सड़क पर लगा रखे थे।

जिस घर में आज भाई भाभी का मंगल गृह प्रवेश होना था, वहीं से अर्थी उठेगी

विकास की मौत का समाचार सुनकर उसके परिवार में कोहराम मच गया। घर परिवार के रिश्तेदारों और परिवारजनों में मातम छा गया। खुशियां गम में बदल गई। आज सुबह जिस घर में भाई और भाभी का गर्मजोशी से मंगल प्रवेश पर स्वागत होना था। वहीं, से आज सबसे ज्यादा खुश छोटे भाई विकास की शव यात्रा निकलेगी। रात भर पिता फूट फूटकर रोते रहे। लेकिन घर की महिलाओं और विकास के बड़े भाई से उसकी मौत की खबर छिपाकर रखी गई। उन्हें गुरुवार को हादसे का पता चला।

 

Source link

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.