सेक्‍यूलरिज्‍म वैश्‍विक स्‍तर पर भारत के लिए बड़ा खतरा, प्रोपेगेंडा करने वालों को सजा भुगतनी होगी: CM योगी

सेक्‍यूलरिज्‍म वैश्‍विक स्‍तर पर भारत के लिए बड़ा खतरा, प्रोपेगेंडा करने वालों को सजा भुगतनी होगी: CM योगी
Spread the love


सीएम योगी आदित्‍यनाथ (Yogi adityanath) ने भारत के धर्मनिरपेक्षता पर बोलते हुए लोगों से अपील की कि वे छोटे सांप्रदायिक विवादों में शामिल होकर देश की मैत्रीपूर्ण भावना को न खोएं.

नई दिल्‍ली.

उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने एक और विवादास्‍पद बयान दिया है. उन्‍होंने शनिवार को कहा है कि धर्मनिरपेक्षता (Secularism) वैश्विक स्‍तर पर भारतीय परंपरा के लिए बड़ा खतरा है और जो लोग भारत के खिलाफ प्रोपेगेंडा फैला रहे हैं, उन्‍हें सजा भुगतनी होगी.

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शनिवार को एक कार्यक्रम में चेतावनी के लहजे में कहा, ‘अपने स्वयं के लाभ के लिए लोगों को गुमराह करने और देश को धोखा देने वालों को बख्शा नहीं जाएगा. जो लोग कुछ पैसे के लिए भारत के बारे में झूठी बातें फैला रहे हैं उन्‍हें कार्रवाई का सामना करना होगा.’

मुख्यमंत्री शनिवार को यहां संत गाडगे सभागार में ग्लोबल इनसाइक्लोपीडिया ऑफ द रामायण की ‘कर्टेन रेजर’ पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. इस कार्यक्रम का आयोजन प्रदेश के संस्कृति विभाग ने किया था. मुख्यमंत्री ने अयोध्या शोध संस्थान द्वारा प्रकाशित अन्य पुस्तकों का भी विमोचन किया. उन्‍होंने इस दौरान कहा कि अयोध्‍या में बन रहे राम मंदिर ने ग्लोबल इनसाइक्लोपीडिया ऑफ द रामायण के लॉन्‍च को और खास बना दिया है.

सीएम योगी ने भारत के धर्मनिरपेक्षता पर बोलते हुए लोगों से अपील की कि वे छोटे सांप्रदायिक विवादों में शामिल होकर देश की मैत्रीपूर्ण भावना को न खोएं. उन्‍होंने कार्यक्रम के दौरान कहा कि भगवान श्रीराम की संस्कृति पहली संस्कृति है, जिसने वैश्विक मंच पर अपना स्थान बनाया. इसके हजारों वर्ष बाद भगवान बुद्ध की संस्कृति वैश्विक मंच पर स्थापित हुई.

उन्‍होंने कहा कि महाभारत और रामायण सिर्फ हमें जीवन के अच्‍छे संदेश ही नहीं देते, बल्कि यह हमें भारतीय सीमाओं विस्‍तार के बारे में भी कहीं अधिक बताते हैं. इन हिंदू महाकाव्‍य की कहानियां हमें एक बेहतर भारत बनाने के लिए भी मदद करते हैं. सीएम योगी ने कहा कि कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अयोध्‍या में भगवान राम के अस्तित्‍व पर सवाल खड़े करते हैं. लेकिन इतिहास को कोई झुठला नहीं सकता.



Source link

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.