रामसीन में रह चुका नायब तहसीलदार कल्पेश जैन को पिंडवाड़ा में एसीबी ने दरवाजा तोड़कर लिया हिरासत में

रामसीन में रह चुका नायब तहसीलदार कल्पेश जैन को पिंडवाड़ा में एसीबी ने दरवाजा तोड़कर लिया हिरासत में
Spread the love


सिरोही/जालोर

सिरोही जिले के पिंडवाड़ा में बुधवार को तहसीलदार कल्पेश जैन को ट्रेप करने पहुंची एसीबी टीम की भनक लगते ही जैन ने खुद को कमरे में ​बंद कर दिया। इस दरम्यान एसीबी ने एक अन्य आरआई को हिरासल में ले लिया है।

जानकारी के अनुसार बुधवार को पिंडवाड़ा में एसीबी टीम तहसीलदार कल्पेश जैन को ट्रेप करने के लिए पहुंची। पिंडवाड़ा तहसीलदार कल्पेश जैन को इसकी भनक लग गई और उसने स्वयं को अपने निवास पर बंद कर दिया। एसीबी ने दरवाजा खुलवाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। आखिरकार एसीबी को पिंडवाड़ा पुलिस को मौके पर बुलाना पड़ा।

Video

अपुष्ट जानकारी के अनुसार एसीबी टीम और स्थानीय पुलिस ने तहसीलदार के निवास को बाहर से घेर रखा। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने कटर की मदद से दरवाजा तोड़ दिया है। ऐसे में तहसीलदार कल्पेशन जैन ने अन्दर आग लगा दी, जिससे माना जा रहा है कि जैन ने रिश्वत की रकम को जला दिया है। एसीबी ने तहसीलदार को हिरासत में ​ले लिया है और पूछताछ व अन्य कार्रवाई जारी है।

विवादों में रहा है कल्पेश जैन

सिरोही जिले के पिडंवाड़ा तहसीलदार पूर्व में करीब 2019 में जालोर जिले के रामसीन में नायब तहसीलदार रह चुका हैं। इस दरम्यान उनके नाम काफी विवाद चर्चा में आ चुके है। उस दरम्यान कई जमीनों को अधिकार क्षेत्र में लेकर नियम विरुद्ध पट्टे जारी किए थे। इसको लेकर कल्पेश जैन के विरुद्ध कई शिकायतें भी हुई और समाचार पत्रों में खबरें भी छपी ​थी। ज्यादा शिकायतें होने के बाद जालोर के तत्कालीन कलक्टर ने इसके खिलाफ राजस्व विभाग को शिकायत दी थी। ऐसे में कल्पेश जैन को रामसीन से हटा दिया गया था।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.