जालोर जिले में इस कदर मेहरबान हुआ मानसून, जानिये कहां हुई सर्वाधिक बारिश

जालोर जिले में इस कदर मेहरबान हुआ मानसून, जानिये कहां हुई सर्वाधिक बारिश
Spread the love


– तेज बारिश के बाद नदी नालों में पानी की आवक के साथ तापमान में भी गिरावट

जालोर. बारिश के दौर के बीच जलस्रोतों में पानी की आवक के बीच लोगों की खुशियंा परवान पर है। शनिवार को जिलेभर में तेज बारिश का दौर शुरू हुआ जो रविवार केा भी जारी रहा। इस मानसून में बागोड़ा क्षेत्र में कम बारिश हुई है, लेकिन शेष स्थानों पर अच्छी खासी बारिश हुई। जसवंतपुरा क्षेत्र में इंद्रदेव इस कदर मेहरबान हुए कि तीन इंच से ज्यादा 84 मिलीमीटर बारिश हुई। जालोर में भी 38 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।

जिला मुख्यालय पर सवेरे करीब आधा घंटा तक तेज बारिश का दौर चला। बारिश के दौरान सड़कों पर तेज बहाव हुआ और निचले इलाकों में पानी का भराव हो गया।  जिले में सर्वाधिक 84 मिलीमीटर (सवा तीन इंच) जसवंतपुरा क्षेत्र में बारिश दर्ज की गई। इधर, जसवंतपुरा, सुंधा माता, रानीवाड़ा, बडग़ांव क्षेत्र में भी सवेरे से भारी बारिश का दौर जारी रहा।

भीनमाल. क्षेत्र में पिछले दो दिन की उमस व गर्मी के बाद रविवार को एक बार फिर इन्द्रदेव मेहरबान रहे। सुबह आसमान में उमड़ी काली घटाएं हवा के साथ घंटेभर तक जमकर बरसी। बारिश से शहर की सड़कें ताल-तलैया बन गई। सड़कों पर वेग के साथ पानी बहा। शहर खजुरिए नाले में भी पानी का बहाव हुआ। क्षेत्र की कोड़ी नदी भी पूरे वेग से बही। बारिश से लोगों को गर्मी व उमस से राहत मिली। शहर में बारिश का दौर सुबह छह बजे शुरू हुआ, घंटेभर तक रिमझिम बूंदाबादी होती रहे, लेकिन 7.15 बजे से आंधी के साथ मूसलाधार बारिश शुरू हुई। घंटेभर तेज बारिश से खेत-खलिहान पानी से लबालब हो गए।

अलर्ट जारी किया गया है

जालोर. जिले में आगामी दिवसों में मौसम विभाग द्वारा भारी वर्षा की संभावनाओं को देखते हुए पुन: अलर्ट घोषित किया गया है। कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने जिले के समस्त अधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए तथा आमजन को जल भराव वाले स्थानों के साथ नदी, नालों और रपट वाले स्थानों से दूर रहने एवं सावधानी बरतने की अपील की है।

इतनी हुई बारिश

जालोर 38
आहोर 45
सायला 32
भीनमाल 40
बागोड़ा 12
जसवंतपुरा 84
रानीवाड़ा 36
चितलवाना 8
सांचौर 20
यह आंकड़े शनिवार शाम 5 बजे तक के हैं।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.