जालोर में इस बूढे पैंथर को पकडऩे के बाद टीम ने यहां छोड़ा

जालोर में इस बूढे पैंथर को पकडऩे के बाद टीम ने यहां छोड़ा
Spread the love


गुजरात सीमा के रिड़का गांव से पकड़ा गया पैंथर सुंधा कंजर्वेशन रिजर्व एरिया में छोड़ा

जालोर. दो दिन की मशक्कत के बाद वन विभाग की टीम ने आखिरकार पैंथर को पकड़ लिया और उसे शनिवार को सुंधा माता कंजर्वेशन रिजर्व एरिया में आबादी क्षेत्र से दूर छोड़ा गया। यह लगभग 14 साल का बूढ़ा पैंथर था और शिकार की तलाश में गुजरात राज्य से जालोर जिले की सीमा में प्रवेश कर गया। जोधपुर माचिया पार्क से विशेष टीम पहुंची थी और उन्होंने ही पैंथर को ट्रेंकुलाइज किया। जिसके बाद शुक्रवार रात को रानीवाड़ा रेंज में ही उसे अंडर ऑब्जर्वेशन रखने के साथ शनिवार सवेरे सुंधा कंजर्वेशन रिजर्व एरिया में छोड़ दिया गया।

ग्रामीणों ने ली राहत की सांस

नेहड़ क्षेत्र की बात करें तो नर्मदा परियोजना से पानी की आवक होने के बाद यह एरिया हरा भरा हुआ है। अक्सर शिकार की तलाश में इसी कारण से अक्सर पैंथर सांचौर के नेहड़ क्षेत्र में पहुंचने लगे है। पिछले पांच साल में चार से पांच बाद पैंथर पहुंचे है और इन्होंने लोगों को घायल करने के साथ मवेशियों का शिकार भी किया, हालांकि इस पैंथर के मामले में ऐसा नहीं था। इसके पकड़े जाने के बाद ग्रामीणों ने भी राहत की सांस ली।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.