जालोर में शराब की इस दुकान की सबसे अधिक लगी बोली, चौंका दिया सभी को

जालोर में शराब की इस दुकान की सबसे अधिक लगी बोली, चौंका दिया सभी को
Spread the love


  • – अंतिम लगी बोलियों में दिखा उत्साह, ई-ऑक्शन के बाद अब आवंटन प्रक्रिया चलेगी।

जालोर. चौथे और पांचवें चरण की बोलियों ने हर किसी को चौंका दिया। ये सर्वाधिक रही। इस बार सबसे ज्यादा हैरान भंवरानी समूह ने किया। जिले में सर्वाधिक बोली इसी समूह पर लगी। यहां न्यूनतम रिजर्व प्राइस 1 करोड़ 51 लाख रुपए था, जबकि यहां 730.25 प्रतिशत ग्रोथ के साथ इस समूह के लिए 12 करोड़ 59 लाख रुपए की बोली लगी। जिले में लगी यह सर्वाधिक बोली है।

चौथे और पांचवे चरण में 18-18 समूह के लिए बोलियां लगी। चौथे चरण में 18 समूह के लिए 78 बोली दाताओं ने बोलियां लगाई। चौथे चरण के लिए न्यूनतम रिजर्व प्राइस 27 करोड़ 86 लाख रुपए था, जबकि उसकी तुलना में 93.76 बढ़ोतरी के साथ 53 करोड़ 99 लाख की बोलियां लगी। इसी तरह पांचवे चरण में 25 समूहों में से 18 पर 65 जनों ने बोलियां लगाई।

यहां न्यूनतम रिजर्व प्राइस 46 करोड़ से अधिक का था, जबकि बोलियां 49.32 प्रतिशत की ग्रोथ के साथ 68 करोड़ 83 लाख रुपए रही। इस तरह से दोनों चरणों में कुल 36 समूह पर 143 जनों ने बोलियां लगाई और इनमें न्यूनतम रिजर्व प्राइस से 66.06 प्रतिशत अधिक बोलियां लगी।

ये सबसे महंगे समूह

चौथे और पांचवे चरण में चाटवाड़ा का समूह न्यूनतम रिजर्व प्राइस से 118.51 प्रतिशत की ग्रोथ के साथ 3 करोड़ 25 लाख रुपए, एलाना में 109.64 प्रतिशत की ग्रोथ के साथ 1 करोड़ 56 लाख, केशवना 166.92 प्रतिशत की ग्रोथ के साथ 2 करोड़ 81 लाख रुपए, उम्मेदाबाद में 127.07 प्रतिशत की ग्रोथ के साथ 3 करोड़ 60 लाख रुपए, लालजी की डूंगरी में 119.48 प्रतिशत की ग्रोथ के साथ 2 करोड़ 61 लाख, सिवाड़ा में 118.50 प्रतिशत ग्रोथ के साथ 4 करोड़ 37 लाख रुपए, धानोल समूह 164.13 प्रतिशत ग्रोथ से 6 करोड़ 31 लाख, आकोली समूह 125.49 प्रतिशत ग्रोथ के साथ 3 करोड़ 36 लाख, मोहनजी की प्याऊ 242.93 प्रतिशत ग्रोथ के साथ 3 करोड़ 55 लाख और रेवत समूह 329.83 प्रतिशत ग्रोथ के साथ 1 करोड़ 52 लाख रुपए की बोलियां लगी।

बचे हुए समूह पर फिर लगेंगी बोलियां

पांच समूह की प्रक्रिया के बाद भी कुछ समूहों में आवेदकों ने रुचि नहीं दिखाई। इन शेष रही दुकानों के लिए 17 और 19 मार्च को ई-ऑक्शन होगा। 17 मार्च को हाड़ेचा और भीनमाल की एलआईसी रोड समूह के लिए नीलामी होगी। जबकि 19 मार्च को शेष रही 12 दुकानों के लिए प्रक्रिया चलेगी। 19 मार्च को चांदूर, पहाड़पुरा, जसवंतपुरा, सांचौर शहर रानीवाड़ा साइड, सांचौर शहर सांचौर शहर साइड, जाखड़ी, खाखरिया, कुड़ा, मालवाड़ा, मैत्रीवाड़ा, रतनपुर और गरडाली समूह के लिए बोलियां लगेगी।

इधर, जिन समूहों के लिए बोलियां लग चुकी है। उन पर अब विभाग की खास नजर है। समूह के अधिकतम बोली लगाने वाले तीन बोलीदाता विभाग के संपर्क में है। क्योंकि वैकल्पिक व्यवस्था में पहले स्तर पर उच्च बोली वाले तीन बोली दाता ओं को विकल्प के तौर पर समूह के लिए प्राथमिकता दी जाएगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.