यातायात निरीक्षण के घर गूंगा ने दिया था वारदात को अंजाम, पुलिस ने दबोचा

यातायात निरीक्षण के घर गूंगा ने दिया था वारदात को अंजाम, पुलिस ने दबोचा
Spread the love


  • – आला दर्जे का नकबजन गूंगा

जालोर. कोतवाली थानाक्षेत्र में हुई नकबजनी की वारदातों के मामले में पुलिस ने एक शातिर आरोपी को दबोचा। पुलिस ने आला दर्जे के नकबजन को बुधवार को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने कुछ दिन पूर्व रोडवेज यातायात निरीक्षक खेतसिंह राठौड़ के किराये के मकान में घुस कर सामान चुराने के आरोपी जालोर निवासी नकबजन किशन उर्फ गूंगा पुत्र जगदीश माली को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी चोरी की वारदातों को अंजाम देकर शौक मौज में रुपए उड़ाता था। वहीं आरोपी इससे पहले भी आहोर व जालोर क्षेत्र में कई वारदातों को अंजाम दे चुका है। आरोपी नकबजनी की कुल 13 वारदातों में गिरफ्तार हो चुका है। वहीं काफी समय से नकबजनी के मामलों में न्यायिक अभिरक्षा में चल रहा था, मगर जैसे ही जमानत पर बाहर आया फिर से रैकी कर नकबजनी की वारदातों को अंजाम देने लगा। ऐसे में पुलिस टीम ने उसे गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया।

टांके में मिला विवाहिता का शव

जालोर. कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत पिजोपुरा गांव में गुरुवार को एक विवाहिता का शव टांके में मिला। सूचना पर उम्मेदाबाद चौकी प्रभारी रघुनाथ विशनोई व जालोर तहसीलदार मादाराम मीणा मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। चौकी प्रभारी विश्नोई ने बताया कि मृतका के ससुर चेतनाथ पुत्र छोगनाथ गोस्वामी निवासी पीजोपुरा ने रिपोर्ट दी कि बुधवार रात को उसकी पुत्रवधु धनीदेवी पत्नी महेंद्रनाथ रोज की तरह सो गई थी।

सुबह उठकर देखा तो वह कहीं दिखाई नहीं दी। इस पर उसे काफी ढूंढा, लेकिन कोई पता नहीं लगा। इस दौरान निर्माणाधीन मकान में बने टांके में देखा तो उसका शव दिखा। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने मृतका के पीहर पक्ष से बार-बार संपर्क किया, लेकिन वे दोहपर 2 बजे तक भी नहीं पहुंचे। बाद में तहसीलदार मीणा, पटवारी बर्मा विशनोई, कांस्टेबल प्रीतमसिंह, शेरसिंह व ग्रामीणों की मौजूदगी में शव को टांके से बाहर निकालकर जिला अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। जहां पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द किया गया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.